ITR फॉर्म सबमिट करने के पश्चात जरूर कराएं ई वेरिफिकेशन, अन्यथा आपका फॉर्म अधूरा माना जाएगा:

22 July 2019 | 2.21 PM नई दिल्ली: इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फॉर्म भरने के बाद उसका इलेक्ट्रॉनिक वेरिफिकेशन जरूर करा लें, नहीं तो आपका फॉर्म अधूरा माना जाएगा। सीधे तौर पर कहें, तो आईटीआर फाइल करने का अंतिम चरण फॉर्म सबमिट नहीं, वेरिफिकेशन होता है। वैसे तो वेरिफिकेशन ऑफलाइन भी किया जा सकता है। इसके लिए 120 दिनों का वक्त भी मिलता है। हालांकि सबसे आसान तरीका इलेक्ट्रॉनिक वेरिफिकेशन है। ऐसे में आज हम आपको इलेक्ट्रॉनिक वेरिफिकेशन के 4 तरीके बता रहे हैं। नेटबैकिंग से वेरिफिकेशन नेटबैंकिंग के जरिए भी आ



आईटीआर फाइल करने की प्रक्रिया अब ओर भी आसान, सबको मिलेगी यह खास सुविधा...

20 July 2019 | 12.10 PM इनकम टैक्स विभाग ने आईटीआर-1 फाइल करने की प्रक्रिया काफी आसान बना दी है. अब विभाग दूसरे करदाताओं के लिए भी ऐसा करना चाहता है. विभाग ने बताया है कि अभी ITR 1, 2, 3 और 4 के लिए प्री-फिल्ड यानी भरा-भराया XML उपलब्ध है. अन्य आईटीआर के लिए भी जल्द इस सुविधा को मुहैया कराया जाएगा. 11 जुलाई, 2019 को अपनी ई-फाइलिंग वेबसाइट पर विभाग ने यह जानकारी अपडेट की है. इस कदम से उन सभी लोगों को सुविधा होगी, जिन्हें 2018-19 के लिए आईटीआर फाइल करने की जरूरत है. रिपोर्ट के अनुसार, विभाग ने प



अब इनकम टैक्स विभाग को साझेदारी फर्म व कंपनियों से संबंध और निवेश भी बताना होगा:

18 July 2019 | 12.21 PM नई दिल्ली: काले धन पर मोदी सरकार जिस तरह लगातार वार कर रही है उससे ऐसा लगता है कि वह देश में से न केवल काले धन को कम करना चाहती है बल्कि उस स्रोत को भी घेरना चाहती है जिसका रास्ता भ्रष्टाचार के घर में से निकलता है। मोदी सरकार अपने पहले शासन काल में यह समझ चुकी थी कि जितना काला धन व्यापारियों के पास है उससे कहीं अधिक भ्रष्टप राजनेताओं, सरकारी व निजी अफसरशाही और इनसे जुड़े दलालों के पास है और इन लोगो ने यह काला धन मुख्यत रियल एस्टेट सेक्टर, ऑटोमोबाइल्स और महँगी वस्तुओं आदि



50 लाख रुपए तक है सैलरी तो आईटीआर के लिए भरना होगा सिर्फ 'सहज' फॉर्म:

13 July 2019 | 12.35 PM नई दिल्ली: असेसमेंट ईयर 2019-20 के लिए आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल करने की अंतिम तारीख 31 जुलाई 2019 है। जैसे-जैसे आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल करने की तारीख नजदीक आ रही है, आयकर विभाग करदाताओं के लिए नए-नए निर्देश जारी कर रही है। आयकर विभाग ने कहा है कि जो लोग एक मकान के मालिक हैं और सैलरी से सालाना आय 50 लाख रुपए तक है उन्हें आईटीआर के लिए केवल एक पेज का आईटीआर-1 सहज फॉर्म भरना होगा। इससे करदाताओं को आईटीआर दाखिल करने में आसानी होगा और उन्हें समय की बचत होगी। अंतिम तारीख



राहत: बिना पैन कार्ड के भी भर सकेंगे आयकर रिटर्न, आधार का करना होगा इस्तेमाल

6 July 2019 | 11.54 AM नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने वित्त वर्ष 2019-20 में आयकरदाताओं को बड़ी राहत दी है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल करने के लिए पैन नंबर की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया है। आधार का कर सकेंगे इस्तेमाल संसद में बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि अब देश के 120 करोड़ से अधिक लोगों के पास आधार नंबर है। इसलिय सरकार ने फैसला किया है कि देश का कोई भी व्यक्ति आईटीआर भरने के लिए पैन नंबर के स्थान पर आधार नंबर का इस्तेमाल कर सकता है। हालांकि, आधार नंबर



आर्थिक सर्वे 2019 : ज्यादा टैक्स देने वाले को मिलेगा अनोखा इनाम

5 July 2019 | 2.37 PM कैसा लगेगा अगर ज्यादा टैक्स भरने पर आपको खास सुविधाएं मिलें? आपके नाम पर सड़क बनाई जाए? अच्छा लगेगा न! लोग टैक्स भरें, इस आदत को प्रोत्साहित करने के लिए आर्थिक सर्वे में कुछ इसी तरह के सुझाव दिए गए हैं. आर्थिक सर्वे के अनुसार, "समाज में लोग अक्सर अपना रुतबा दिखाना चाहते हैं. जिले के 10 सबसे ज्यादा टैक्स चुकाने वालों को सामने लाकर उन्हें प्रोत्साहन देना चाहिए." क्या हैं सुझाव? 1. हवाई अड्डों पर फटाफट बोर्डिंग के लिए खास सुविधा दी जा सकती है. सड़कों और टोल बूथ पर